क्रिसमस की कहानी - Merry Christmas Story in Hindi

प्रभु यीशु के जन्म की कहानी – Merry Christmas Story in Hindi

Posted by

हर साल 25 दिसंबर को पुरे विश्व मैं ईसा मसीह के जन्म का खुशियों भरा ईसाईयों का सबसे ज्यादा लोकप्रिय त्यौहार है। क्रिश्चियन धर्म में ईसा मसीह को बहुत ही मानते है इस धर्म में आस्था रखने वाले सभी लोगो के लिए ईसा मसीह का स्थान अपने दिल में हमेशा से ही है और रहेगा। यहाँ हम आपको क्रिसमस की कहानी हिंदी मैं बता रहे है इस से आप क्रिसमस की कहानी को समज पाओगे। क्रिसमस की कहानी हिंदी मैं।

क्रिसमस केवल एक ईसाइयो का त्यौहार ही नहीं उनका अपने ईश्वर के प्रति आश्था का प्रतिक त्यौहार भी है। क्रिश्चियन समुदाय के लोग अपने इस पवित्र त्यौहार को बहुत ही धाम धूम से मानते है और मसीह द्वारा बताये गए सिद्धान्तों को पूरी दुनिया मैं फैलाते है और मसीह से प्राथना करते है। आप भी अपने बच्चो और करीबियों के हमारी कहानी को शेयर करके यीशु के जन्म की कहानी यानि क्रिसमस दिवस की कहानी हिंदी को और बढ़ावा दे।

Merry Christmas Story in Hindi प्रभु यीशु के जन्म की कहानी

jesus birth story in hindi

 

प्रभु यीशु के जन्म की कहानी Jesus Christ Birth Story in Hindi

यीशु का जन्म  कहा हुआ था ?

नाजरेथ नाम के एक शहर मैं एक महिला रहती थी जिसका नाम मैरी (Mary) था। मैरी (Mary) का नाम यूसुफ नामके एक आदमी के साथ जुड़ा हुए था। ईश्वर ने एक रात गेब्रियल नाम की एक परी को मैरी (Mary) के पास भेजा और परी ने मैरी (Mary) को कहा की वो बहुत ही जल्द गर्भवती हो जाएगी और और एक पुत्र को जन्म देगी उसका नाम यीशु रखने को कहा क्युकी यीशु एक ईश्वर का पुत्र होगा। मैरी (Mary) ईश्वर पे बहुत ही विश्वास करती थी और उन्हें अपने ईश्वर के ऊपर पूरा भरोसा था।

गेब्रियल नाम की परी ने मैरी से कहा की वो उसकी चचेरी बहन एलिज़ाबेथ के पास रहने चली जाये। एलिज़ाबेथ वो थी जिसको सभी लोग यह कहते है की वो कभी माँ नहीं बन शक्ती थी। उसके बाद मैरी ने अपने परिवार से बिदाई ली और चचेरी बहन एलिज़ाबेथ उसके पति जकर्याह (Zechariah) के घर गई। एलिज़ाबेथ को पहले से ही पता था की ईश्वर ने मैरी को अपने पुत्र के जनम के लिए चुना हुआ है।
जकर्याह को एक फ़रिश्ते पहले से ही ये बताया था की एलिज़ाबेथ के पुत्र का नाम जॉन होगा और वो लोगो को यीशु के स्वागत के लिए तैयार करेगा।

मैरी (Mary) कुछ महीनो बाद नाजरेथ वापस चली जाती है। परंतु, युसुफ यह जान चूका था की उनकी होने वाली बीवी गर्भवती है। युसुफ को लगता था की उसे यह शादी नहीं करनी चाहिए और शादी के लिए मना करना चाहिए युसुफ बहुत चिंता में डूबा हुए था। परंतु, युसुफ को एक फ़रिश्ते ने सपने आकर शादी की चिंता ना करने की सलाह दी और युसुफ को यीशु के जन्म की बात कही। जल्द ही युसुफ ने मरियम से शादी कर ली।
उस समय मैरी और युसुफ जहा रहते थे वो जगह रोमन एम्पायर का हिस्सा थी और वहा का राजा ऑगस्टस (Augustus) था। ऑगस्टस चाहता था की वो हर किसी से टैक्स ले और उसके लिए वो वहां रहने वाले लोगो की सूचि बना ना चाहता था।

ऑगस्टस (Augustus) ने सभी को आदेश दिया के वो जहा के मूल निवासी है वहां जाये और अपना नाम सुधि में दर्ज करवाए। मैरी और यूसुफ नाजरेथ को छोड़ के अपने मूल निवास स्थान बेतलेहेम (Bethlehem) पहुंचे। मैरी गर्भवती थी और उसके लिए यह ७० मील की नाजरेथ से बेतलेहेम (Bethlehem) की यात्रा बहुत ही मुश्किल थी।
मैरी और यूसुफ नाजरेथ पहुंचे तब वहां बहुत ही भीड़ थी और उनको रहने की कोई जगह नहीं मिली थी। बहुत मुश्किल से एक जगह मिली जो जानवरों के बीच थी। वहां मौजूद गड़ेरिये पूरी रात अपनी भेड़ों की देखभाल कर रहे थे और सुबह ही तब उनके साथ एक आश्चर्यजनक घटना हुई। सुबह एक फरिस्ता उनके सामने आया और गड़ेरिये उस से डर गए। फरिस्ते ने कहा…..

डरो मत. मेरे पास तुम्हारे लिए एक अच्छी खबर है. आज बेतलेहेम में तुम्हारे लिए एक रखवाले ने जन्म लिया है और वो तुम्हे जानवरों की चारा खिलाने वाली एक नाँद में मिलेगा.

jesus birth story in hindi

अब सारे गड़ेरिये बेतलेहेम के लिए रवाना होते है। सभी गड़ेरिये बेतलेहेम पहुंचे और वहां उन्होंने यीशु को एक नाँद में लेटे हुए देखा बिल्किल वैसे ही हुए जैसे उस फ़रिश्ते ने कहा था। ये बात अब हर जगह फैलने लगी और अब सभी लोग बहुत ही आश्चर्यचकित हो गए थे। जब यीशु का जनम हुए था तब आकाश में एक नया सितारा दिखाई दिया , अब दूर दूर रहने वाले ज्ञानी को भी समज आ गया था की एक महान राजा का जनम हो चूका है और वे सभी नए राजा की खोज में निकल पड़े और उन्होंने बेतलेहेम ढूंढ निकला और अपने साथ लाये सभी कीमती उपहारों को भेट किया।

यीशु मसीह के जन्म की कहानी आपके साथ सजा की है आपको कैसी लगी क्रिसमस से जुडी ईशा मशीह की कहानी पढ़के हमें अपनी राइ जरूर दे। हम आपके लिए और बह कहानी लेकर आते रहेंगे आपभी मैरी क्रिसमस के मोके पर हमारी ये कहानी सभी लोगो से शेयर जरूर करिये। ईसा मसीह आपकी रक्षा करे और आपके सपने पुरे करे Merry Christmas. 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *